ब्रह्माण्ड के बारे में हम जब भी सोचते हैं तो हमारे मन में बहुत सवाल आते हैं कि यह कितने साल पुराना है या कहां तक फैला हुआ है इसका आखिरी बिंदु क्या है वहां पर तापमान क्या है और ऐसे बहुत से रहस्य है आज आज हम आपको ऐसे ही अंतरिक्ष के बारे में रहस्यमय तथ्य बताएंगे जो आपने आज तक कभी भी सुना नहीं होगा इसके बारे में सुनकर आप बहुत अचंभित हो जाएंगे

Facts about Universe in hindi | ब्रह्माण्ड के रहस्य

ब्रह्माण्ड की आयु :

आपके मन में यह प्रश्न जरूर आता होगा कि हमारा ब्रह्माण्ड कितने साल का है उसकी उम्र कितनी होगी तो आज हम आपको बताते हैं कि हमारे ब्रह्माण्ड की आयु का वर्तमान अनुमान लगभग 13.8 अरब वर्ष है। यह निर्धारण ब्रह्माण्ड में सबसे पुराने प्रकाश, ब्रह्मांडीय माइक्रोवेव पृष्ठभूमि विकिरण और इसके विस्तार की देखी गई दर का अध्ययन करने से पता चलता है।

ब्रह्माण्ड का अंतिम भाग :

ब्रह्माण्ड का अंतिम भाग अभी भी गहन शोध और अटकलों का विषय है। डार्क एनर्जी की प्रतिकारक शक्ति और गुरुत्वाकर्षण की आकर्षक शक्ति के बीच संतुलन के आधार पर, अंतरिक्ष अनिश्चित काल तक विस्तारित हो सकता है, अंततः बिग क्रंच में ढह सकता है, या संतुलन की स्थिति तक पहुंच सकता है। य कहे तो अंतरिक्ष का कोई भी अंत नहीं है हमारी पृथ्वी भी ब्रह्माण्ड में ठीक वैसे ही है जैसे एक बहुत बड़े मरुस्थल में एक बालू की कड होती है इसके अंत तक हम लोग कभी भी नहीं पहुंच सकते इसीलिए उसको अनंत कहना सही होगा जो कभी भी खत्म नहीं हो सकता है।

ब्रह्माण्ड का बढ़ना :

वैज्ञानिकों द्वारा ब्रह्माण्ड विज्ञान की सबसे गहन खोजों में से एक यह है कि ब्रह्माण्ड का आज भी विस्तार हो रहा है। यह अहसास 20वीं सदी की शुरुआत में एडविन हबल द्वारा की गई टिप्पणियों से हुआ। हबल ने देखा कि आकाशगंगाएँ एक-दूसरे से दूर जा रही थीं, जिससे पता चलता है कि ब्रह्मांड स्थिर नहीं बल्कि इसका विस्तारित हो रहा है। इससे बिग बैंग सिद्धांत का प्रतिपादन हुआ, जिसने सुझाव दिया कि ब्रह्मांड की उत्पत्ति एक गर्म और घने बिंदु से हुई है और तब से इसका विस्तार हो रहा है। ब्रह्मांड का विस्तार इतना तेज़ है कि आकाशगंगाएँ प्रकाश की गति से भी तेज़ गति से हमसे दूर जा सकती हैं। यह आइंस्टीन के सापेक्षता के सिद्धांत का उल्लंघन नहीं करता है क्योंकि यह ब्रह्माण्ड ही है जो विस्तार कर रहा है, आकाशगंगाओं को अपने साथ ले जा रहा है। परिणामस्वरूप, ब्रह्मांड के ऐसे क्षेत्र हैं जिन तक हम कभी नहीं पहुंच सकते हैं या निरीक्षण नहीं कर सकते हैं क्योंकि वे प्रकाश की गति से कहीं अधिक तेजी से पीछे हट रहे हैं।

ब्रह्माण्ड में जीवन :

दोस्तों यह सवाल सदियों से आज तक वैज्ञानिकों को परेशान किए हुए क्या वास्तव में ब्रह्मांड में कई और ऐसे ग्रह हैं जहां पर जीवन संभव है या इंसान जैसे पृथ्वी पर रहता है क्या और ग्रहों पर भी रह सकता है खोजों से पता चला है कि मंगल ग्रह पर ध्रुवीय बर्फ की चोटियों और सतह के नीचे पानी की बर्फ मौजूद है। मंगल पर पानी मिलना भी एक रहस्यमें बात है वैज्ञानिक आज भी उस पर खोज कर रहे हैं जो लोगों को वहां पर रहने के लिए काफी आकर्षित करता है क्या वास्तव में चांद पर और मंगल पर मनुष्य का जीवन संभव है या नहीं यह अभी भी एक रहस्य बना हुआ है।

interesting facts about universe what are the scariest facts about space facts about universe in hindi ब्रह्माण्ड के रहस्य

ब्लैक होल की अद्भुत शक्ति और संख्या :

दोस्तों ब्लैक होल ब्रह्माण्ड की सबसे रहस्यमई चीजे में से एक है वैज्ञानिकों का ऐसा मानना है कि हमारी आकाशगंगा में हजारों लाखों ब्लैक होल हो सकते हैं और इनका आकार भी बहुत ज्यादा बड़ा हो सकता है इनका गुरुत्वाकर्षण खिंचाव इतना अधिक होता है कि इससे प्रकाश भी बच नहीं सकता है इसको कुछ लोग गुरुत्वाकर्षण राक्षस भी कह कर संबोधित करते हैं क्योंकि इसका गुरुत्वाकर्षण बल इतना शक्तिशाली होता है कि वह अपने अंदर किसी को भी खींच सकता है कुछ ब्लैक होल इतने बड़े हैं कि वह हमारे सूरज से भी अरबों गुना अधिक विशाल हैं।

तापमान :

ब्रह्माण्ड का तापमान भी एक रहस्य में चीज से भरा हुआ है यहां पर कुछ भी भरोसा करना नामुमकिन है यहां पर एक ही समय में बहुत ज्यादा गर्मी तो बहुत ज्यादा ठंडी हो सकती है और दोस्तों यहां तारों के बीच में बहुत अधिक निर्वात में तापमान बहुत अधिक नीचे तक गिर जाता है या यूं कहे तो शून्य तक भी जा सकता है जो की -273.15 डिग्री सेल्सियस तक हो जाता है और जबकि ब्लैक होल और तारों के आसपास के क्षेत्र का तापमान लाखों डिग्री सेल्सियस तक चला जाता है।

सितारों की संख्या :

लोग अक्सर यह सवाल करते हैं कि ब्रह्माण्ड में कितने तारे हैं दोस्तों धरती पर मौजूद समुद्र के किनारे जितनी बालू के कारण होंगे उनसे कहीं अधिक ब्रह्माण्ड में तारे मौजूद है जिनकी गिनती करना नामुमकिन है।

निष्कर्ष (Facts about Universe in hindi | ब्रह्माण्ड के रहस्य)

वैज्ञानिकों द्वारा आज भी ब्रह्मांड के बारे में नए-नए कल्पनाएं और खोज की जा रही है अंतरिक्ष को समझ पाना आज भी बहुत मुश्किल है वह ब्रह्मांड के बारे में सदियों से चली आ रही है।

प्रश्न / उत्तर (Facts about Universe in hindi | ब्रह्माण्ड के रहस्य)

प्रश्न 1 : अंतरिक्ष में जाने वाला प्रथम भारतीय। 

उत्तर 1 : अंतरिक्ष में जाने वाले प्रथम भारतीय व्यक्ति राकेश शर्मा है इसरो और सोवियत संघ के एक जॉइंट अभियान तहत वह आठ दिन तक अंतरिक्ष में रहे थे।

प्रश्न 2: भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन।

उत्तर 2 : भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन जिसे ISRO भी कहा जाता है इसका प्रमुख कार्य भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम को चलाना उसका विकास करना मैनेजमेंट में योगदान करना इसके अंतर्गत अंतरिक्ष यान अंतरिक्ष अनुसंधान कार्य का विकास और निर्माण कार्य किया जाता है भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ने अनेक सफल प्रक्षेपण मिशन किए हैं जिसमें चंद्रयान, मंगलयान और गगनयान शामिल है ISRO ने सूर्य, चंद्रमा, और अन्य ग्रहों की अनुसंधान में भी योगदान किया है। ISRO का मिशन है अंतरिक्ष के क्षेत्र में भारतीय सामर्थ्य को बढ़ावा देना, और साथ ही अंतर्राष्ट्रीय समुदाय में भारत का अंतरिक्ष क्षेत्र में गर्वशील नुमाइंदगी करना।

प्रश्न 3 : अंतरिक्ष में जाने वाला पहला जानवर कौन था।

उत्तर 3 : अंतरिक्ष में जाने वाला पहला जानवर कुत्ता था। जिसका नाम ला‍यका था उसे 3 नवंबर 1957 को सोवियत संघ की गायना 2 अंतरिक्ष यान में भेजा गया था। लेकिन वह वापसी में जिन्दा नहीं लौट सका।


Read More : facts about india in hindi | भारत के बारे में रहस्यमय तथ्य


दोस्तों अगर आपको Facts about Universe in hindi | ब्रह्माण्ड के रहस्य के बारे में रहस्यमय तथ्य लेख अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करें इससे हमे सहयोग मिलेगा और कमेंट में अपनी राय जरूर बताएं, Flasis आपके उज्जवल भविष्य की कामना करता है,

धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *