मैं जवान 18 साल की गोरी और नाजुक बदन की इतनी खूबसूरत और मेरी शादी एक गांव के देहाती किसान से कर दी वह रात भर मुझसे करता रहा प्यार एक सेकंड भी उसने मुझे छोड़ा नहीं मैं बस रोती चिल्लाती रही उसको झेलना शायद मेरे बस की बात नहीं थी शायद मेरी किस्मत ही खराब है जो मेरी शादी इतनी जल्दी और एक गरीब गांव के छोटे से घर में एक देहाती से कर दी गई

खूबसूरत लड़की की कहानी

मैं आज भी जब इस बात को सोचती हूं तो रोने लगती हूं आखिर मेरी क्या गलती थी जो मेरे साथ ही यह सब होना था यह शादी मेरे घर वालों ने जबरदस्ती कर दी थी मैंने बहुत मन किया फिर भी उन्होंने उस लड़के से मेरी शादी कर दी और मुझे अपने ससुराल जाना पड़ा शादी वाले दिन जब मैं बिस्तर पर बैठी थी तभी वह लड़का आया जिससे मेरी शादी हुई थी उसका नाम रमेश था वह आया मेरे पास और बैठ गया वह लड़का मुझे बिल्कुल भी पसंद नहीं था वह काला सा और बहुत ही लंबा चौड़ा था

वह मेरी तारीफ करने लगा लेकिन मैं जरा भी उसकी बात पर ध्यान नहीं दिया और चुपचाप सो गई और उससे कहा कि मुझे तुम्हारे साथ नहीं सोना तुम वहां दूर जाकर सो जाओ वह चुपचाप गया और जमीन पर बिस्तर लगाकर सो गया सुबह हुई तो मैंने देखा मेरा पति रमेश खेत चला गया था काम करने और मैं घर पर ही थी मैं घर पर थोड़ा बहुत कम किया और इन्हीं सब कामों के बीच शाम हो गई रमेश भी खेत से लौट कर घर आ गया था वह मिट्टी में और पसीने से भीगा हुआ उसके पास से बहुत बदबू आ रही थी मेरा जरा भी मन नहीं हुआ उसके पास जाने का मैं उससे दूर भाग गई मैंने उससे कहा मेरे पास मत आना  फिर वह चला गया नहाने और फिर उसके बाद  उसने खाना खाया और और हम लोग फिर चले गए कमरे में सोने के लिए वह मेरे पास बिस्तर पर आने लगा लेकिन मैंने उसको मना कर दिया वह फिर भी मेरी बात नहीं माना और मेरे साथ जबरदस्ती करने लगा और रात भर वह मेरे साथ वह सब किया जो उसका मन था वह एक सेकंड के लिए भी मुझे नहीं छोड़ता था

एक खूबसूरत लड़की की कहानी जिसकी शादी देहाती से कर दी | Story in Hindi

जैसे लगता है जिंदगी में पहली बार किसी लड़की को देखा है एक बार तो उसने मेरे साथ बहुत देर तक किया जिसकी वजह से मुझे हॉस्पिटल भी जाना पड़ा था हर इंसान यही कहता था कि गवार को परी  मिल गई है एक दिन मैंने रमेश से साफ कह दिया कि मैं तुमसे कोई प्यार नहीं करती हूं

मैं किसी और से प्यार करती हूं या सब सुन  कर वह बहुत उदास हो गया और मुझसे दूर हट गया फिर मैंने कहा कि मैं अपने कॉलेज में पढ़ने वाले एक लड़के से प्यार करती हूं और मैं उसी से शादी करना चाहती थी लेकिन मेरे घर वालों ने तुम्हारे साथ जबरदस्ती मेरी शादी कर दिया इसीलिए अब मैं तुम्हारे साथ और नहीं रहना चाहती तुम मुझे छोड़ दो मैं यहां से उसके पास जाना चाहती हूं मैंने रमेश से फोन मांगा और अपने बॉयफ्रेंड को फोन किया और उसी से बात करने लगी या सब देखकर रमेश नीचे जमीन पर जाकर सो गए अब हर रात को ऐसा ही होने लगा यह सब देखकर रमेश बहुत ही उदास रहने लगा उसके बाद कभी भी वह मेरे पास नहीं आया

और मेरे साथ जबरदस्ती नहीं किया एक दिन उसने कहा मुझे लगा तुम नई-नई हो इसलिए शर्मा रही हो इसीलिए मैं तुम्हारे करीब आया था ताकि तुमसे प्यार कर सकूं और तुम्हारे साथ रह सकूं मुझे लगा था कुछ दिन में सब कुछ ठीक हो जाएगा और तुम भी मुझसे प्यार करने लगोगी लेकिन मुझे नहीं मालूम था कि तुम किसी और से प्यार करती हो अगर तुम यह बात मुझसे पहले बता देती तो मैं तुमको टच भी नहीं करता मैं तुमको उदास नहीं देख सकता इसीलिए आज ही मैं अपने घर वालों से बात कर लूंगा अगर तुम्हें उसके साथ ही रहना है तो ठीक है मैं तुम्हें उसके घर पर छोड़ आता हूं मैंने तुरंत ही अपने बॉयफ्रेंड को फोन किया और उससे पूछा कहां हो और अपना एड्रेस मुझको भेज दो मैं वहीं पर आ रही हूं तुम्हारे पास मैं रमेश के साथ उस एड्रेस पर गई रमेश मुझे अपने बॉयफ्रेंड के घर पर छोड़ दिया और कहने लगे कि मैं जल्दी आऊंगा और तुमको तलाक के कागज भिजवा दूंगा आज से तुम आजाद हो मुझे कुछ अजीब लग रहा था लेकिन आज मैं खुश भी बहुत थी  कि मुझे अपना प्यार राहुल वापस मिल गया था

फिर रमेश वापस अपने घर चले आए मैं अपने बॉयफ्रेंड राहुल के साथ उसके घर पर बैठी थी मैंने उससे पूछा क्या हुआ तुम्हारे घर वाले कहां है उसने कहा घर वाले सब बाहर गए हुए हैं उसने मेरे साथ फोटो भी खींची और हम लोगों ने बहुत देर बातचीत करी और साथ में खाना भी खाया थोड़ी देर बाद उसने मुझसे कहा कि अभी हम लोग घूमने मुंबई जाएंगे या सुनकर मैं बहुत खुश हुई वह मुझसे कहने लगा तुम तैयार हो जाओ मैं अभी नहा कर आता हूं जब वह नहाने गया तभी उसके मोबाइल पर एक मैसेज आया मैंने मैसेज खोल कर पढ़ तो मेरे होश ही उड़ गए उसमें  लिखा था कि लड़की तो बहुत अच्छी है और खूबसूरत है इस लड़की का तुम जितना पैसा मांग रहे हो तुमको मिल जाएगा तुम इसको लेकर तुरंत ही मुंबई आ जाओ इतना पढ़ते ही मुझे सब कुछ समझ में आ गया कि अब मेरे साथ क्या होने वाला है मैं तुरंत ही अपना बैग उठा के वहां से भाग पड़ी और अपने ससुराल पहुंच गई 

मैंने यह सब बातें तुरंत ही रमेश को बताइए यह सब बातें सुनने के बाद भी रमेश ने मुझे एक बात भी नहीं बोली और ना ही मुझे डाटा बल्कि उस लड़के के खिलाफ ही पुलिस कंप्लेंट करके उसको जेल भिजवा दिया यह सब देखकर मुझे बहुत आश्चर्य हुआ जिसको मैं इतना गलत समझ रही थी वह इंसान कितना अच्छा है और जिसको अच्छा समझ रही थी वह कितना गलत इंसान है मैंने रमेश के पैर पकड़ के बहुत रोई और उनसे बहुत माफी मांगी लेकिन उन्होंने मुझे कुछ नहीं कहा मुझे उठाया और गले से लगा लिया आज भी उनके कपड़ों में मिट्टी लगी हुई थी और शरीर से पसीना बह रहा था आज मुझे वह बदबू नहीं लग रहा था बल्कि खुशबू लग रही थी एक ऐसी खुशबू जिसमें मुझे  डूब जाने का मन कर रहा था मेरा बिल्कुल भी मन नहीं कर रहा था उनसे दूर हटाने का मुझे तो लग रहा था की मैं बस ऐसे ही रहूं दोस्तों जिंदगी में हमें जो कुछ भी मिलता है वह सब कुछ हमारी औकात के हिसाब से ही मिलता है वह सब कुछ अच्छा ही होता है तो इसलिए अपनी किस्मत को कोसाना बंद करिए और जो मिला है उसमें खुश रहें


Read More : अपनी RESPECT करवाना सीखो | Give Respect Take Respect


एक खूबसूरत लड़की की कहानी जिसकी शादी देहाती से कर दी | Story in Hindi लेख अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करें इससे हमे सहयोग मिलेगा और कमेंट में अपनी राय जरूर बताएं, Flasis आपके उज्जवल भविष्य की कामना करता है, धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *